ईमानदारी सर्वश्रेष्ठ नीति है पर निबंध, Imandari Sarvshreshth Niti Hai Essay in Hindi, Short, Long Essay in Hindi, Hindi Anuched for Class 6, 7, 8, 9, 10, and 12 Students.

ईमानदारी सर्वश्रेष्ठ नीति है पर निबंध

Imandari Sarvshreshth Niti Hai Essay in Hindi

जीवन में ईमानदार होना बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह बहुत सी समस्याओं को हल करती है और शान्ति व सफलता की ओर ले जाती है। ईमानदारी वह सम्पत्ति है, जो ईमानदार व्यक्तियों को जीवन में बहुत अधिक विश्वास और सम्मान देती है। “ईमानदारी सर्वश्रेष्ठ नीति है”, प्रसिद्ध व्यक्ति बेंजामिन फ्रेंकलिन क द्वारा कही गई प्रसिद्ध कहावत है। सादगी के साथ एक ईमानदार जीवन सभी अनावश्यकताओं से अलग जीवन है, जिसका यदि सभी के द्वारा पालन किया जाए तो परिवार और समाज में एकरुपता लाती है। ईमानदारी अच्छी सम्पत्ति है, जो शान्तिपूर्ण जीवन और सम्मान के साथ सफलता प्राप्त करने में मदद करती है। ईमानदार होना जीवन में सबसे महत्वपूर्ण चीजों पर ध्यान केन्द्रित करने में मदद करता है।

हालांकि, ईमानदारी की आदत को विकसित किए बिना, हम सरलता और जीवन की अन्य अच्छाईयों को प्राप्त नहीं कर सकते हैं। हम कह सकते हैं कि, ईमानदारी सरलता के बिना हो सकती है पर सरलता ईमानदारी के बिना कभी भी नहीं हो सकती है। बिना ईमानदारी के हम दो संसारों में रहते हैं, अर्थात् एक सच्चा संसार और अन्य दूसरा वह संसार जो हमने विकल्प के रुप में बनाया है। फिर व्यक्ति “ईमानदारी सर्वश्रेष्ठ नीति है”, का जीवन के हरेक पहलु (व्यक्तिगत, व्यवसाय, नौकरी, और अन्य रिश्तों) में पालन करते हैं और आमतौर पर एक समान जीवन जीते हैं। एक तरफ जहाँ ईमानदारी हमें सरलता की ओर ले जाती है; वहीं दूसरी ओर बेईमानी हमें दिखावे की ओर ले जाती है।

नीचे दिए गए कुछ बिन्दु ईमानदारी की जीवन-शैली के लाभों का वर्णन करते हैं:

जीवन में ईमानदारी का अर्थ अंतरंगता (पारस्परिकता) का रास्ता है अर्थात् यह हमारे मित्रों को हमारे बहुत करीब सच्चे मित्र की तरह वास्तविक सच के साथ लाती है; न कि उनके करीब जहाँ हमें दिखावा करना पड़ता है।

यह जीवन में अच्छा, वफादार, और उच्च गुणों वाले मित्रों को बनाने में मदद करती है, क्योंकि ईमानदारी सदैव ईमानदारी को आकर्षित करती है।
यह भरोसेमंद होने में हमारी मदद करती है और जीवन में बहुत अधिक सम्मान को प्राप्त करती है, क्योंकि ईमानदार लोगों पर दूसरे हमेशा विश्वास करते हैं।
यह मजबूती और आत्मविश्वास लाती है और दूसरों के द्वारा खुद को कम करके न आंकने में मदद करती करती है।

ऐसा देखा जाता है कि, ईमानदार लोग आसानी से कल्याण की भावना विकसित कर लेते हैं और शायद ही कभी जुकाम, थकान, निराशा, अवसाद, चिंता और अन्य मानसिक समस्याओं को विकसित करते हैं।

ईमानदार लोग एक बेईमान की तुलना में राहत के साथ आरामदायक जीवन जीते हैं।

यह शान्तिपूर्ण जीवन का सबसे महत्वपूर्ण उपकरण है और हमें परेशानियों से बाहर निकालता है।

शुरुआत की स्थिति में, ईमानदारी को विकसित करने में बहुत से प्रयास लगते हैं हालांकि, बाद में यह बहुत आसान हो जाती है।

जीवन में अच्छा चरित्र, विश्वास और नैतिकता आसानी से ईमानदारी को विकसित करती है, क्योंकि एक अच्छे चरित्र वाले व्यक्ति के पास किसी से भी छिपाने के लिए कुछ भी नहीं होता है, इस प्रकार आसानी से ईमानदार बन सकते हैं। ईमानदारी हमें बिना किसी बुरी भावना के आत्म-प्रोत्साहन की भावना देती है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.