Home » News » असम चुनाव : भाजपा प्रत्याशी की कार में मिली EVM Machine, अधिकारियों ने ली थी लिफ्ट

असम चुनाव : भाजपा प्रत्याशी की कार में मिली EVM Machine, अधिकारियों ने ली थी लिफ्ट

असम चुनाव : भाजपा प्रत्याशी की कार में मिली ईवीएम मशीन, अधिकारियों ने ली थी लिफ्ट

असम विधानसभा चुनावी प्रक्रिया पर सवाल उठने लगे हैं। असम के पथरकंडी से भारतीय जनतपा पार्टी के प्रत्याशी कृष्णेंदु पॉल के नीजि वाहन में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) मिलने से यह पूरी चुनावी प्रक्रिया सवालों के घेरे में आ चुकी है। इस पूरे मामले के सामने आने के बाद से जहां एक ओर भाजपा बैकफुट पर नजर आ रही है वहीं, विपक्षी दलों ने केंद्र सरकार और चुनाव आयोग को कटघरे पर खड़ा कर दिया है।

चारों अधिकारी सस्पैंड, 1 अप्रैल को हुई थी वोटिंग

इस पूरे मामले में चुनाव आयोग ने 4 अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है। साथ ही संबंधित एक बूथ पर दोबारा चुनाव करवाने के निर्देश दिए हैं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और सांसद राहुल गांधी ने इस मामले में भारतीय जनता पार्टी और चुनाव आयोग की प्रक्रिया पर सवाल उठाए हैं। वहीं, चुनाव आयोग ने सफाई देते हुए कहा है कि गाड़ी खराब हो गई थी। इसके बाद चुनाव अधिकारियों को भाजपा प्रत्याशी की गाड़ी में लिफ्ट लेनी पड़ी। आयोग ने इस मामले को लेकर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया और कहा कि ऐसे कई मामले सामने आ रहे हैं और इलेक्शन कमीशन को इन पर निर्णायक कदम उठाना चाहिए। असम में 1 अप्रैल को दूसरे फेज की वोटिंग हुई। इस दौरान 39 सीटों के लिए 74.64 प्रतिशत मतदान हुआ। पहले फेज में यहां 72.14 प्रतिशत वोट पड़े थे।

लोकतंत्र की हालत खराब : राहुल गांधी

इस पूरे मामले को लेकर राहुल गांधी ने सोशल मीडिया के माध्यम से कहा है कि इलेक्शन कमिशन की गाड़ी खराब, भाजपा की नीयत खराब, लोकतंत्र की हालत खराब! वहीं, दूसरी ओर प्रियंका गांधी ने कहा कि जब प्राइवेट गाडिय़ों में ईवीएम मिलती हैं तो ऐसे मामलों को इकलौती घटना बताया जाता है और भूल मानकर खारिज कर दिया जाता है। वीडियो एक्सपोज करने वालों को भाजपा वाले मीडिया का इस्तेमाल कर हारा हुआ साबित करते हैं। वास्तव में ऐसी बहुत सारी घटनाएं हो रही हैं और कोई कदम नहीं उठाया जाता। इसलिए इस मामले में इलेक्शन कमिशन को कदम उठाना चाहिए। सभी राष्ट्रीय दलों को ईवीएम के इस्तेमाल पर दोबारा विचार करना चाहिए।

Also Read:--  Haryana Government declare vacation in school till 30 april

About

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Name *
Email *
Website

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.